भारतभारत

भारतीय बल्लेबाजों के बाद गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के दम पर टीम इंडिया ने दूसरे टी20 मैच में ऑस्ट्रेलिया को 44 रनों से हरा दिया. टीम भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए यशस्वी जायसवाल, इशान किशन और ऋतुराज गायकवाड़ की अर्धशतकीय पारियों के बूते निर्धारित 20 ओवरों में चार विकेट खोकर 235 रन बनाए. इस विशाल स्कोर के सामने ऑस्ट्रेलियाई टीम पूरे 20 ओवर खेलने के बाद नौ विकेट खोकर 191 रन ही बना सकी. भारत की तरफ से रवि बिश्नोई ने तीन विकेट लिए. इसी के साथ भारत ने पांच मैचों की टी20 सीरीज में 2-0 की बढ़त ले ली है.

यशस्वी जायसवाल ने 53, गायकवाड़ ने 58 और इशान किशन ने 52 रनों की पारी खेली. अंत में रिंकू सिंह ने एक बार फिर अपनी फिनिशिंग स्किल्स का प्रदर्शन किया और नौ गेंदों पर तूफानी अंदाज में नाबाद 31 रन बना डाले. ऑस्ट्रेलिया की तरफ से मार्कस स्टोयनिस ने सबसे ज्यादा 45 रन बनाए.

ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजी फेल

236 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम को स्टीव स्मिथ और मैथ्यू शॉर्ट ने तेज शुरुआत देने की कोशिश की. शुरुआती दो ओवरों में ये दोनों सफल भी रहे लेकिन इस सीरीज में टीम इंडिया की कप्तानी कर रहे सूर्यकुमार यादव ने तीसरे ओवर में रवि बिश्नोई को गेंद सौंपी. रवि ने इस ओवर की पांचवीं गेंद पर शॉर्ट (19) को पवेलियन की राह दिखाई. पिछले मैच में शतक जमाने वाले बल्लेबाज जॉश इंग्लिस भी इस मैच में कुछ खास नहीं कर पाए. पांचवें ओवर की दूसरी गेंद पर रवि ने उन्हें तिलक वर्मा के हाथों कैच करा पवेलियन भेज दिया. उन्होंने दो रन ही बनाए. ग्लेन मैक्सवेल (12) खतरा हो सकते थे लेकिन अक्षर पटेल ने उन्हें जायसवाल के हाथों कैच करा भारत को बड़ी सफलता दिलाई. आठवें ओवर की दूसरी गेंद पर प्रसिद्ध कृष्णा ने स्टीव स्मिथ को भी पवेलियन भेज दिया था. स्मिथ ने 19 रन बनाए.

टिम-स्टोयनिस का साझेदारी

ऑस्ट्रेलिया ने अपने चार विकेट 58 रनों पर ही खो दिए थे. इसके बाद टिम डेविड और मार्कस स्टोयनिस ने तूफानी अंदाज में रन बनाए और पांचवें विकेट के लिए 38 गेंदों पर 81 रनों की साझेदारी की. रवि ने टिम डेविड को आउट कर इस साझेदारी को तोड़ा. दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने 22 गेंदों पर चार चौके और दो छक्कों की मदद से 37 रन बनाए. मार्कस स्टोयनिस अर्धशतक की तरफ बढ़ रहे थे लेकिन पांच रन से चूक गए. मुकेश कुमार ने उन्हें अपना शिकार बनाया. उन्होंने 25 गेंदों पर दो चौके और चार छक्कों की मदद से 45 रन बनाए. प्रसिद्ध कृष्णा ने फिर 16वें ओवर में शॉन एबट (1) और नाथन एलिस (1) को आउट कर ऑस्ट्रेलिया की हार तय कर दी. 17वें ओवर की आखिरी गेंद पर एडम जैम्पा को अर्शदीप सिंह ने पवेलियन की राह दिखाई.

भारत की मजबूत शुरुआत

इससे पहले, ऑस्ट्रेलियाई कप्तान मैथ्यू वेड ने टॉस जीता और भारत को पहले बल्लेबाजी के लिए बुलाया. जायसवाल और ऋतुराज ने टीम को मजबूत शुरुआत दी. दोनों ने पहले विकेट के लिए 77 रन जोड़े. अर्धशतक बनाने के बाद जायसवाल 25 गेंदों पर नौ चौके और दो छक्कों की मदद से 53 रन बनाकर एलिस का शिकार हो गए. उनके जाने के बाद भी ऑस्ट्रेलियाई टीम को राहत नहीं मिली. इशान किशन ने आते ही तूफान मचा दिया और ऋतुराज से पहले अपना अर्धशतक पूरा किया. वह 16वें ओवर की दूसरी गेंद पर स्टोयनिस का शिकार बने. उन्होंने 32 गेंदों पर तीन चौके और चार छक्कों की मदद से 52 रन बनाए. ऋतुराज और इशान के बीच 87 रनों की साझेदारी हुई. कप्तान सूर्यकुमार 10 गेंदों पर 19 रन बनाकर आउट हो गए. ऋतुराज आखिरी ओवर की दूसरी गेंद पर पवेलियन लौटे. उन्होंने 43 गेंदें खेलीं जिनमें से तीन पर चौके और दो पर छक्के मारे.

रिंकू सिंह का तूफान

सूर्यकुमार के आउट होने के बाद आए रिंकू सिंह ने आते ही तूफानी अंदाज में बल्लेबाजी की. उन्होंने इस मैच में सिर्फ नौ गेंदों का सामना किया और चार चौके, दो छक्कों की मदद से नाबाद 31 रन बनाए. उनके साथ तिलक वर्मा दो गेंदों पर सात रन बनाकर नाबाद रहे. उन्होंने एक छक्का मारा. ऑस्ट्रेलिया की तरफ से नाथन एलिस ने तीन विकेट लिए.

यह भी जरूर पढ़े :

रोहित शर्मा से वर्ल्ड कप फाइनल में हुई ये 5 गलतियां, ये गलती बड़ी सबसे भारी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed